रफ़ीक मसीहवीडियोस्वागत

क्यों हमें यीशु को अपना परमेश्वर मानना चाहिये?

क्यों हमें यीशु को अपना परमेश्वर मानना चाहिये? यह एक ऐसा सवाल है जो अक्सर मुसलमान और दूसरे धर्म के लोग हम मसीहियों से पूछते हैं? उनका तर्क होता है कि उनका अपना एक ख़ुदा और पैग़म्बर है तो फिर क्यों उन्हें यीशु को अपनाना चाहिए और क्यों वह सब छोड़ देना चाहिए जिसका पालन वह सालों से करते आ रहे हैं।

उनके इस प्रश्न का बड़ा सीधा और साफ़ जवाब है कि कोई अन्य नबी या कोई अन्य भगवान उनके उद्धार का स्रोत नहीं बन सकता है। केवल यीशु मसीह है जिसके पास उनको उद्धार प्रदान करने का अधिकार और शक्ति है क्योंकि यीशु इस ब्रह्माण्ड का रचयिता और परमेश्वर है। कइयों ने अपने नबी और भगवान होने का दावा किया लेकिन किसी ने कभी मुक्ति का आश्वासन नहीं दिया जैसा कि सिर्फ यीशु ने दिया है।

इस वीडियो के माध्यम से “यीशु मसीह मुसलामानों के लिए” संगठन के अतिथि पास्टर रफ़ीक मसीह जो पाकिस्तान से हैं और बार्सिलोना स्पेन में रहते हैं, आज आप को बतायेंगे कि क्यों हमें यीशु को अपना परमेश्वर मानना चाहिये, क्यों हमें यीशु को अपना जीवन दे देना चाहिए और क्यों सिर्फ यीशु से सच्चे दिल से उद्धार की प्रार्थना करनी चाहिए? यह वीडियो आपको यह जानने में सहायता करेगी कि किस तरह अनन्त जीवन और सच्ची मुक्ति का रास्ता सिर्फ यीशु मसीह के माध्यम से ही पाया जा सकता है। आमीन।


Previous post

यीशु के जीवन के प्रारंभिक वर्ष

Next post

Why did Muhammad use the name of Jesus for creating the religion of Islam?

No Comment

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.