प्रार्थना - कठिन परिस्थितियों में परमेश्वर पर भरोसा रखना
प्रार्थनास्वागत

प्रार्थना – कठिन परिस्थितियों में परमेश्वर पर भरोसा रखना

भजन संहिता 56 : हे परमेश्वर, मुझ पर करुणा कर क्योंकि लोगों ने मुझ पर वार किया है। वे रात दिन मेरा पीछा कर रहे हैं, और मेरे साथ झगड़ा कर रहे हैं। मेरे शत्रु सारा दिन मुझ पर वार करते रहे। वहां पर डटे हुए अनगिनत योद्धा हैं। जब भी …


READ MORE →
ईश्वर यीशु में विश्वास - यीशु मसीह मुसलमानों के लिए
प्रार्थनास्वागत

ईश्वर यीशु में विश्वास

हे मेरे ईश्वर यीशु, जो कुछ तूने बताया और जो पवित्र कलीसिया विश्वास करने को सिखाती है उन सब बातों पर मैं दृढ़ विश्वास करता हूँ इसलिए कि तू सच्चाई ही है जो न ठगता है और न ठगा जा सकता है इस विश्वास में मैं जीना और मरना चाहता …


READ MORE →
बीमारी के समय में यीशु से प्रार्थना - यीशु मसीह मुसलमानों के लिए
प्रार्थनास्वागत

बीमारी के समय में यीशु से प्रार्थना

बीमारी के समय में यीशु से प्रार्थना मैं दुर्बल आत्मा और बीमार शरीर से तेरे समक्ष प्रार्थना करता हूँ मेरे पापों को धो और मेरी बीमारी से मुझे उबार दे मेरे यीशु मुझे मत त्याग, मेरे यीशु मुझे चंगा कर दे यीशु, अपने पवित्र रक्त की शक्ति से मुझे चंगा …


READ MORE →
प्रेरितों का विश्वास - यीशु मसीह मुसलमानों के लिए
प्रार्थनास्वागत

प्रेरितों का विश्वास

मैं विश्वास रखता हूँ सर्वसामर्थी पिता परमेश्वर पर, जिस ने आकाश व पृथ्वी की रचना की और उसके इकलौते पुत्र हमारे प्रभु यीशु मसीह पर जिन्होंने पवित्र आत्मा की सामर्थ से कुंवारी मरियम से जन्म लिया पेन्तुस पितालुस के राज्य में दुःख उठाया, क्रूज़ पर चढ़ाया गया, मारा गया, गाढ़ा …


READ MORE →
प्रणाम मारिया - यीशु मसीह मुसलमानों के लिए
प्रार्थनास्वागत

प्रणाम मारिया

प्रणाम मारिया, कृपापूर्ण, प्रभु तेरे साथ है, धन्य तू स्त्रियों में, और धन्य तेरे गर्भ का फल यीशु। हे सन्त मरियम, परमेश्वर की माँ, प्रार्थना कर हम पापियों के लिए, अब और हमारे मरने के समय। आमीन। Share


READ MORE →
हे हमारे स्वर्गवासी पिता - यीशु मसीह मुसलमानों के लिए
प्रार्थनास्वागत

हे हमारे स्वर्गवासी पिता

हे हमारे स्वर्गवासी पिता, तेरा नाम पवित्र माना जाए, तेरा राज्य आए, तेरी इच्छा जैसे स्वर्ग मे पूरी होती है, वैसे ही पृथ्वी पर पूरी हो, हमारी रोज़ की रोटी आज हमें दे, और जैसे हम आपने ऋणियों को क्षमा करते हैं वैसे ही हमारे ऋणों को क्षमा कर, और …


READ MORE →